SSD क्या है और कैसे काम करता है?

SSD क्या है? SSD या Solid-state drive (SSD) इस नए युग का storage device होता है जिसका इस्तमाल कम्प्यूटर में किया जाता है। SSDs में flash-based memory का इस्तमाल होता है, जो की काफ़ी ज़्यादा तेज होता है traditional mechanical hard disk की तुलना में।

अगर आप computer का use करते हैं तो आपने SSD के बारे मे कहीं ना कही तो जरूर सुना होगा। क्योंकि ये आजकल बहुत ही तेजी से popular हो रही है और computer की speed का एक बड़ा reason भी बन गयी है।

Computer specialist भी बेहतर performance के लिये आपको HDD की जगह SSD चुनने को suggest करते है। अगर आप नहीं जानते हैं की लैपटॉप में SSD क्या होता है और यह कैसे काम करता है? तो चलिए इसको थोड़ा विस्तार से जानते हैं।

SSD की परिभाषा

SSD की full form Solid State Drive होती है। ये भी हमारे computer में available Hard disk की तरह ही Data store करने का ही work करती है, लेकिन Hard Disk fast work करती है इसके तेज़ work करने के पीछे कई reason है।

लेकिन अगर simple word में कहा जाए तो SSD Drive का update या new version है जिसको new technology का use करके बनाया गया है यह simple hard disc के मुकाबले weight में हल्की और small होती है और साथ ही expensive भी होती हैं। 

SSD कैसे काम करता है? 

SSD एक तरह की Storage Drive होती है जो की आपके data को Permanent basis पर store करती है। SSD को computer से add करने के कारण computer की Transfer speed mostly बढ़ जाती है और अगर आप अपने computer में से दूसरे computer को डाटा transfer करते है तो वो आप immediately कर सकते है।

जैसा की हम जानते ही हैं कि Hard Disk में एक magnetic disk होती है जिसको घुमने की वजह से Hard Disk में data transfer और access हो पाता है । परंतु SSD में ऐसा बिल्कुल नहीं होता है। सभी काम semi conductor द्वारा किया जाता है ये RAM की तरह ही कार्य करता है क्योंकि semi conductor magnet के compare में बेहतर communication करता है इसलिए यह बहुत fast है।

SSD के प्रकार

चलिए अब SSD के कुछ सबसे महत्वपूर्ण भागों के बारे में जानते हैं।

कई प्रकार के SSD हैं जो उनकी connectivity और speed के according divide किए गए हैं जो कुछ इस तरह है।

SATA SSD Disk

इस type का SSD laptop के hard drive के समान show होता है जो Hard Disk की तरह एक simple SATA connector का समर्थन करता है। ये SSD का सबसे simple रूप कारक है जिसको आप देखकर recognize कर सकते हैं  सबसे पहले इस type के SSD market में आए और अभी भी चलते हैं। इन SSD का इस्तेमाल आज कल use हो रहे किसी भी PC में हो सकता है। 

MTS-SSD Disk

MTS-SSD Disk connectivity और form factor में simple SATA SSD से unique होता है यह आकार में बहुत small होता है और general SSD से दिखने में काफी unique होता है यह general RAM stick और connectivity के मामले में show hota है इसका use हर PC में नहीं किया जा सकता है इसका use करने के लिए आपका PC SATA Port होना बहुत important है ऐसे SSD का uss laptop में किया जाता है।

M.2 SSD Disk

M.2 SSD disk जो है वो SSD M-SATA SSD disk के equal होते हैं। परंतु ये एक Updated Version है। जो SATA SSD की तुलना में तेज़ है but छोटा होने के बावजूद, ये दोनों प्रकार की connectivity का समर्थन करता है अर्थात आप इसे general SATA cable से भी connect कर सकता है। M.2 SSD Disk एक PCI-E Express Port की तरह ही होती है। मगर ये थोड़ा छोटा है।

SSHD SSD DDisk

SSHD को complete तरह से SSD नहीं कह  सकते है क्योंकि यह Solid state drive और Hard Disk दोनों से बना हुआ है। इसमें SSD की कुछ memory और कुछ hard disk है यानी यह hard disk और SSD दोनों के बीच की चीज है। SSHD Disk आजकल के laptop में use कि जाती है।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ